What is DCA and PGDCA in Hindi | DCA और PGDCA क्या है? हिंदी में

DCA और PGDCA क्या है? हिंदी में

हेलो दोस्तों कैसे हो आप? आज हम जानेंगे की What is DCA and PGDCA in Hindi | DCA और PGDCA क्या है? हिंदी में। DCA और PGDCA के बारे में, तो दोस्तों डीसी और पीजीडीसीए कंप्यूटर कोर्स होता है, जिसमें हम कंप्यूटर के बारे में पढ़ाई करते हैं यह कोर्स डिप्लोमा और पोस्ट ग्रेजुएशन के लिए होता है। डीसीए को हम डिप्लोमा कहते हैं और पीजीडीसीए को हम पोस्ट ग्रेजुएशन कहते हैं। कंप्यूटर कोर्स में बहुत सारे कोर्स होते हैं जैसे कि माइक्रोसॉफ्ट ऑफिस, विंडो 11, फोटोशॉप, पेजमेकर, विंडो एक्सप्लोरर, टैली आदि चीजों का हम पढ़ाई करते हैं।

दोस्तों हम DCA और PGDCA के बारे में विस्तार से अलग-अलग जानेंगे, क्या होता है इसके फायदे नुकसान क्या है और यह कितने वर्ष का होता है इस फोर्स को करने में लागत कितना आता है, इसका फुल फॉर्म क्या है। भविष्य में क्या-क्या फायदा है, और हमें कहां कहां जॉब मिल सकता है इस सब के बारे में हम जानकारी प्राप्त करेंगे।

DCA क्या है?

आइए दोस्तों अब हम जानते हैं DCA के बारे में? सबसे पहले हम जानते हैं, कि DCA का फुल फॉर्म क्या होता है? – Diploma in Computer application हैं। दोस्तो DCA एक डिप्लोमा कोर्स होता है, यह 6 माह से 1 साल का डिप्लोमा कोर्स है। जिसमें कंप्यूटर के बारे में आपको जानकारी प्राप्त कराएं जाएगी और आपको एक सर्टिफिकेट/मार्कशीट भी मिलेगा। इस सर्टिफिकेट/मार्कशीट के माध्यम से आप कहीं पर भी कंप्यूटर का जॉब प्राप्त कर सकते हैं।

PGDCA क्या है?

अब हम जानते हैं PGDCA के बारे में? PGDCA का फुल फॉर्म होता है? – Post Graduate Diploma in Computer Science है। दोस्तों यह कोर्स 1 साल का होता है जिसमें 2 सेमेस्टर में बांटा गया है और इसका एग्जाम 6 महीने के अंतराल में होता है। यह पोस्ट ग्रेजुएशन डिप्लोमा कोर्स है। हिंदी में – स्नातकोत्तर डिप्लोमा कोर्स है। पहले सेमेस्टर में आपको C, C++, MS Office, Tally, Java, Photoshop इत्यादि चीजों पढ़ाई की जाते हैं और दूसरे सेमेस्टर में आपको प्रैक्टिकल करना होता है जितनी भी आप पढ़ाई किए हुए हैं पहले सेमेस्टर में।

DCA और PGDCA फीस लागत कितनी है?

अब हम जानते हैं? DCA और PGDCA करने के लिए हमें फीस कितना लगता है। DCA करने के लिए आपको 8,000 से 15,000 तक लग सकता है और PGDCA के लिए आपको 12,000 से 20,000 तक लग सकता है।

DCA और PGDCA में कौन-कौन से सब्जेक्ट होते हैं?

अब हम बात करते हैं सब्जेक्ट के बारे में की DCA और PGDCA में कितना-कितना और कौन-कौन से सब्जेक्ट होता है इसके बारे में हम विस्तार से जानेंगे अलग-अलग शब्दों में –

DCA में सब्जेक्ट होते हैं –

First Semester:

  1. Fundamentals of Computer
  2. Operating System and Application Program
  3. Programming Language
  4. Practical on C Programming and Application Program
  5. Practical on Application Program

Second Semester:

  1. Data Base Management System
  2. Visual Basics (VB)
  3. Internet and Web Page Designing
  4. Project work

PGDCA में सब्जेक्ट होते हैं?

First Semester:

  1. Fundamentals of Computers & Information Technology
  2. Introduction to Operating Systems (Dos, Windows, Linux)
  3. PC Packages
  4. Elective – 1 : Foxpro & MS-Access

Second Semester:

  1. System Analysis and Design
  2. Programming with Visual Basic.NET
  3. Internet & E-Commerce
  4. Elective – 2 : OOPs & Programming with C++ & Financial Accounting with Tally
  5. Project Work

DCA करने के क्या फायदे है?

  • DCA करने के बाद हमें कंप्यूटर डिप्लोमा का सर्टिफिकेट मिल जाता है।
  • प्राइवेट जॉब और गवर्नमेंट जॉब मिल सकता है।
  • DCA करने के बाद आपको BCA में सेकंड सेमेस्टर में प्रवेश ले सकते हैं।
  • कंप्यूटर सेंटर खोल सकते हैं, ऑनलाइन, ऑफलाइन क्लास चला सकते हैं।
  • DCA करने के बाद आपको कंप्यूटर की अच्छी जानकारी मिल जाएगी।

PGDCA करने के क्या फायदे है?

  • कंप्यूटर की बेसिक से लेकर एडवांस तक की जानकारी हो जाती है।
  • गवर्नमेंट जॉब और प्राइवेट जॉब मिल सकता है।
  • कुछ अन्य यूनिवर्सिटी में डायरेक्ट एडमिशन ले सकते हैं MCA कोर्स में 3rd सेमेस्टर में।
  • PGDCA करने के बाद अपना खुद का कंप्यूटर सेंटर, ऑनलाइन, ऑफलाइन क्लास चला सकते हैं।
  • PGDCA करने के बाद हमें कंप्यूटर में पोस्ट ग्रेजुएशन डिप्लोमा का सर्टिफिकेट मिल जाता है।

DCA या PGDCA में प्रवेश कैसे ले?

दोस्तों अब हम बात करते हैं DCA और PGDCA में प्रवेश कैसे ले? के बारे में। DCA में प्रवेश लेने के लिए आपको 12th पास होना जरूरी है, 12th class के बाद Minimum 50% के साथ ही आप प्रवेश ले सकते हैं। और आपको PGDCA में प्रवेश लेना है, तो ग्रेजुएशन होना जरूरी है तभी आप PGDCA में प्रवेश ले सकते हैं, 50% अंको के साथ ग्रेजुएशन होना जरूरी है। DCA डिप्लोमा कोर्स होता है और PGDCA एक पोस्ट ग्रेजुएशन कोर्स होता है। दोनों कोर्स की अपनी अलग अलग मान्यता है।

DCA या PGDCA करने के बाद हमको सैलरी कितना मिल सकता है?

देखो दोस्तों अगर सैलरी की बात करें तो यह अपनी योग्यता पर निर्भर करता है कि आपको अपने काम को इतने अच्छे बेहतर ढंग से कर सकते हैं। अगर आपको काम करने का अनुभव है तो आप को सैलरी बहुत अच्छा मिल सकता है अगर आप शुरुआती दौर पर हैं तो थोड़ा कम मिल सकते हैं किसी भी कंपनी में जाओगे तो सबसे पहले आप आपको एक्सपीरियंस पूछा जाएगा यानी कि आपका अनुभव कितना है।

अगर DCA की बात करें?

DCA में आपको 10,000 से 15,000 तक सैलरी मिल सकता है, आगे चलकर आपको कार्य अनुभव को देखते हुए यह सैलरी बढ़ भी सकता है।

अब PGDCA की बात करें तो?

PGDCA में आपको 15,000 से 25,000 तक सैलरी मिल सकता है, इसमें भी आपको कार्य अनुभव को देखते हुए कंपनी आपको हायर करेगा और आपको सैलरी देंगे। इसमें भी आपको कार्य अनुभव का सबूत देना पड़ेगा।

Conclusion

दोस्तों आज हम DCA और PGDCA के बारे में जाने हैं कि DCA और PGDCA क्या होता है हमारे जीवन में DCA और PGDCA का क्या उपयोग है? यह सब के बारे में आज हम को जानने को मिला।

आशा करता हूं कि आपको DCA और PGDCA के बारे में What is DCA and PGDCA in Hindi | DCA और PGDCA क्या है? हिंदी में के बारे में जानकारी हो गई होगी। अगली पोस्ट में DCA और PGDCA से संबंधित इससे भी अच्छी जानकारी मिलेगी।

इन्हें भी पढ़े –

2 thoughts on “What is DCA and PGDCA in Hindi | DCA और PGDCA क्या है? हिंदी में”

Leave a Comment